धर्मनिरपेक्ष भारत में भाजपा द्वारा देश के हिंदुओं को प्रोत्साहित करना और उनके धार्मिक स्थलों का पुनर्निर्माण करना 2024 के लोकसभा चुनावों में भाजपा के लिए हानिकारक साबित हुआ।

NBL, 07/06/2024, Lokeshwar Prasad Verma Raipur CG: BJP's encouragement of Hindus of the country in secular India and reconstruction of their religious places proved to be detrimental for BJP in the 2024 Lok Sabha elections. पढ़े विस्तार से... 

जो राम को लाए थे, उन्हें हम वापस लाएंगे और भगवा ध्वज को फिर से भारत में फहराएंगे। यह गाना भाजपा के लिए नुकसानदायक साबित हुआ क्योंकि भारत में एक नहीं अनेक धर्म हैं और यही भारत की सबसे बड़ी खूबसूरती है। लेकिन भाजपा ने देश के हिंदुओं को एकजुट करने की कोशिश की लेकिन असफल रही। अपना राजनीतिक कद बढ़ाने की कोशिश की लेकिन भारतीय हिंदुओं ने ही भाजपा को असफलता की ओर अग्रसर किया, जबकि भाजपा केवल हिंदुओं का साथ देकर भारत के वास्तविक स्वरूप को बिगाड़ने में लगी हुई थी और इसी बात को लेकर कुछ भारतीय हिंदुओं ने भाजपा को धोखा दिया, जबकि भाजपा का वास्तविक स्वरूप सबका साथ सबका विकास था। 

इस स्वरूप को भूलकर बीजेपी जाति और धर्म के जाल में फंसकर 2024 के लोकसभा चुनाव में इसकी सीटों में भारी गिरावट आई, जबकि 2019 के लोकसभा चुनाव में सबका साथ सबका विकास की नीतियों के कारण भारी उछाल देखा गया और भाजपा भारी मतों से विजयी हुई और 2024 के लोकसभा चुनाव के चुनाव प्रचार में धार्मिक मतभेद देखने को मिले, जो कि देश की जनता को भाजपा द्वारा धार्मिक मतभेद का दुष्प्रचार पसंद नहीं आया, वह भी भाजपा के पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा, जो कभी अपने आप से कहते थे, सबका साथ सबका विकास, भाजपा भी अपने बढ़ते कद के कारण अहंकारी हो गई थी, जिसे कम करना बहुत आवश्यक था। खासकर उत्तर प्रदेश की लोकसभा सीटों में भारी गिरावट के जरिए और 2024 के लोकसभा चुनाव के नतीजों के जरिए पूरे भारतीय भाजपा परिवार के सदस्यों के लिए यह सबसे बड़ा सबक है।

खबरें और भी

 

6sxrgo

भाजपा को एक सीख हमेशा याद रखनी चाहिए कि अति उत्साह में कोई भी कदम नहीं उठाना चाहिए, जैसे संसद भवन में पीएम मोदी ने एक शब्द कहा था, इस बार भाजपा 370 और हमारा घटक दल एनडीए मिलकर 400 पार करेगा, यह शब्द 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के लिए नुकसानदायक साबित हुआ, बहुत से भाजपा समर्थक इस भ्रम में रहे कि भाजपा अपने दम पर पूर्ण बहुमत से सरकार बना रही है, हमें इतनी चिंता करने की जरूरत नहीं है और बड़ी संख्या में भाजपा के मतदाता वोट देने नहीं गए जबकि प्रत्येक वोट महत्वपूर्ण होता है, इस कारण से EVM वोटर मशीन पर भी सवाल उठ रहे थे क्या वाकई में बीजेपी पीएम मोदी के मशीन तो नही बन गया है EVM इस विषय पर भी खूब चर्चाएं हुई विपक्षी दलों के नेताओ के द्वारा और भारतीय लोकतंत्र के भी द्वारा लोकसभा चुनाव के रिजल्ट आने तक। 

खासकर पुरुष वर्ग से भाजपा को ज्यादा नुकसान हुआ और महिला वर्ग से ज्यादा वोट मिले और चुनाव से पहले अयोध्या में श्री राम मंदिर का उद्घाटन और श्री राम लला के मंदिर में भारी भीड़, खासकर भाजपा समर्थकों की, यह भीड़ भाजपा को वोट नहीं दे पाई और भाजपा समर्थक इस भ्रम में रहे कि इस बार मोदी सरकार 400 पार जरूर करेगी, अगर आपने वोट दिया होता तो मोदी सरकार 400 पार जरूर करती, आप लोग तो तीर्थ स्थलों पर जाकर भाजपा को वोट नहीं दे पाए तो आपकी भाजपा मोदी सरकार 400 कैसे पार कर पाएगी और इसका फायदा विपक्षी दलों को हुआ बहुत कुछ नही बहुत ज्यादा क्योंकि उनके स्थायी मतदाता चुनाव के दौरान कहीं नहीं गए और अपनी पार्टी के नेता को वोट दिया, उनका एक भी वोट बर्बाद नहीं हुआ, वास्तव में कई भाजपा के मतदाता वोट भी नहीं कर पाए जैसे अयोध्या के दुकानदार वोट देने नहीं गए क्योंकि भाजपा ने उन्हें लोकसभा चुनाव से पहले श्री राम लला के मंदिर का उद्घाटन करके भीड़ दी थी, अब वहां के स्थानीय लोगों ने अपने उनके विपक्षी पार्टी के नेता को जी भरकर वोट दिया और भाजपा जो श्री राम की समर्थक है उसे अयोध्या से हार का सामना करना पड़ा क्योंकि भाजपा के समर्थक भाजपा को वोट ही नहीं दे सके, तो भाजपा की मोदी सरकार 400 के पार कैसे जा पाएगी, देश की जनता खुद भाजपा को मिले कम वोटों से स्तब्ध है।

पीएम नरेंद्र मोदी बीजेपी के लिए एक ब्रांड बन चुके थे, उनके सहारे बीजेपी के नए-पुराने सांसद और विधायक बिना अपने दम पर राजनीतिक सुख भोगने का सपना देखा करते थे. पीएम मोदी के सहारे हम आसानी से चुनाव जीत जाएंगे, लेकिन आज पीएम मोदी की वजह से ही बीजेपी को 2024 के लोकसभा चुनाव में 240 सीटें मिली हैं, वरना विपक्षी दलों की लोकलुभावन घोषणाओं की बाढ़ में बीजेपी पूरी तरह बर्बाद हो चुकी होती और विपक्षी दल आज देश का प्रधानमंत्री बना रहे होते. खासकर बीजेपी के सभी नेताओं को पीएम नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा करना चाहिए कि वो देश में दोबारा सरकार बना रहे हैं और पीएम नरेंद्र मोदी फिर से बीजेपी नेताओं का नेतृत्व कर रहे हैं। 

जबकि खुद पीएम मोदी वाराणसी अपनी संसदीय सीट से कम अंतर से जीती है. ये पीएम नरेंद्र मोदी के लिए एक सबक है कि विपक्षी दलों की रणनीति पीएम नरेंद्र मोदी के लिए कितनी घातक थी, कि पीएम नरेंद्र मोदी के भरोसे उनके दूसरे नेता बड़ी बढ़त के साथ लोकसभा चुनाव जीत गए और पीएम नरेंद्र मोदी कितने कम वोटों से जीते, ये छोटी बात नहीं है, बहुत बड़ी बात है. अब यदि भाजपा विपक्षी दलों की कूटनीति को नहीं जान पाएगी तो आगामी विधानसभा चुनाव में भी भारी नुकसान की संभावना बढ़ जायेगी बीजेपी के लिए। 

अब भाजपा एनडीए को विपक्षी पार्टी के नेताओं के बयानों को गंभीरता से लेना होगा कि वो देश के लोकतंत्र के सामने क्या कह रहे हैं और उनके बयानों का क्या असर हो रहा है। देश के लोकतंत्र पर उनके द्वारा बनाई गई रणनीतियों का विश्लेषण करना होगा और उनके इरादों को कमजोर करना होगा। भाजपा एनडीए को विपक्षी पार्टियों के कार्यकाल को नहीं दोहराना चाहिए और न ही देश के लोकतंत्र के सामने इसे एक उदाहरण के रूप में पेश करना चाहिए। उन्होंने ये किया, उन्होंने वो किया। हम क्या कर सकते हैं? देश के हित में अच्छी से अच्छी बातें बताएं ताकि देश का लोकतंत्र देश के हित में आपकी नीतियों को समझ सके और आपको अपना समर्थन दे सके। इस फॉर्मूले पर चलना बहुत जरूरी है।

यह तय है कि भाजपा एनडीए आगामी चुनावों में भारी मतों से जीतेगी और विपक्षी पार्टियों का बढ़ता ग्राफ तुरंत नीचे गिर जाएगा, अगर आपने उनके झूठे वादों को अपना हथियार बना लिया तो उनकी सारी हेकड़ी खत्म हो जाएगी। खासकर भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है और आप सभी धर्मों के लोगों के प्रधानमंत्री हैं, इसलिए सभी धर्मों के लोगों को समान रूप से विकास की ओर ले जाने का काम करें, क्योंकि आज देश के कई लालची हिंदुओं ने भाजपा को धोखा दिया है, जिसका जवाब 2024 के लोकसभा चुनाव के बुरे परिणाम से आप बीजेपी को पता चल गया है, इसलिए अब ज्यादा भाजपा हिंदू धर्म की शरण में जाना बंद कर दे तो आपके लिए यही बेहतर होगा।

अब देश के सभी लोगों को एकजुट करने और भारत को मजबूत करने का प्रयास करें, सबका साथ, सबका विकास की नीतियों को शक्ति देकर भारत को विकसित भारत बनाएं और सभी धर्मों के बीच मतभेद न पैदा करें। देश में सर्व धर्म के लोगों के साथ भाई चारे का सबन्ध स्थापित कर देश को आगे बढ़ाये यह भारत जयचंद टाइप के गद्दारों से भरा हुआ है। मोदी-मोदी के नारे लगाकर आप मोदी और आपके भाजपा दोनों को खत्म कर देंगे और शक्तिशाली भारत को फिर से कमजोर भारत में बदल देंगे। मुफ्तखोर, चोर और लुटेरे यही तो चाहते हैं। लेकिन आप पीएम मोदी के राज में भ्रष्टाचार मुक्त भारत जरूर होना चाहिए और यह मुहिम और तेज होनी चाहिए जो बचाव के लिए विपक्षी दलों के नेता एकजुट होकर हावी हो गया था 2024 लोकसभा चुनाव में उनके काले कारनामे देश के सामने दिखना चाहिए बाकी हार जीत तो लगा हुआ है सत्य का रक्षा सदा स्वयं ईश्वर करता है और सही मायने में कहा जाएं बीजेपी NDA के साथ मिलकर पुनः तीसरी बार नरेंद्र मोदी का प्रधानमंत्री बनना यह बीजेपी के लिए शुभ संकेत है। और विपक्षी दलों के नेताओं के लिए अशुभ संकेत है, जो बीजेपी पीएम मोदी को नही रोक पाए और विपक्षी दलों के नेता जबकि यह लोग यही तो चाहते थे 2024 में देश का प्रधानमंत्री बीजेपी नरेंद्र मोदी नही बने करके लेकिन बन रहा है यही तो इन विपक्षी दलों के कुछ भ्रष्टाचार नेताओं के लिए चिंता का विषय बन सकता हैं। और सामने मुश्किले बढ़ सकती है। 


IMG-5511
ezgif-com-animated-gif-maker-3

749a6b04-733a-40ae-8bd2-42c8e9712d98

b89a986d-b4f2-46f9-ae56-c987d1fff5d6
2cb26fb5-3bc0-4823-ba16-15c49980ea7d


प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने नयाभारत के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें
Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.

खबरें और भी
16/Jun/2024

Mahtari Vandan Yojana : जरूरतमंद महिलाओं के लिए मुश्किल वक्त का सहारा,छोटी-मोटी जरूरतों के लिए अब नही पड़ रही है किसी के पास हाथ फैलाने की जरूरत...

16/Jun/2024

CG NEWS : पीएम मोदी छत्तीसगढ़ के अफसरों से होंगे रुबरु,इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री करेंगे चर्चा…

16/Jun/2024

शाला प्रवेश उत्सव को लेकर लखनपुर विकासखंड शिक्षा अधिकारी ने जन शिक्षकों सहित प्रधान पाठकों की ली बैठक।

16/Jun/2024

Chhattisgarh News : मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री ने दिया शहीद को कांधा,मुख्यमंत्री बोले,नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई तेज, जवानों की शहादत नहीं जाएगी बेकार...

16/Jun/2024

Army Chief Upendra Dwivedi: नए आर्मी चीफ का छत्तीसगढ़ रहा है गहरा नाता,माता-पिता संग रहते थे यहां….