PHOTOS: केंद्रीय मंत्री ने गोद लिया 'टाइगर'... नाम रखा 'अग्निवीर'... देखें तस्वीरें.....

Union Minister of State Ashwini Choubey adopts 'Tiger' in Bengal Safari Siliguri, named 'Agniveer'

 

नई दिल्ली। केंद्रीय राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने बंगाल सफारी सिलीगुड़ी में 'टाइगर' को गोद लिया। 'अग्निवीर' नाम दिया। लोगों को अधिक संख्या में जानवरों को गोद लेने के लिए प्रेरित करने हेतु टाइगर गोद लिया। केंद्रीय राज्यमंत्री अश्विनी चौबे बोले की पर्यावरण संतुलन में जीव जंतुओं की प्रमुख भूमिका, उनका संरक्षण जरूरी है। एडॉप्शन प्रोग्राम के तहत 1 साल के लिए गोद लिया। कहा गया की लोगों में जागरूकता आएगी। जीव जंतुओं के संरक्षण के प्रति संवेदनशील होंगे। (Adopted tiger to motivate people to adopt more animals)

​​​​​Nayabharat

 

 

केंद्रीय पर्यावरण, वन व जलवायु परिवर्तन तथा उपभोक्ता मामले, खाद्य व सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने बंगाल सफारी नॉर्थ बंगाल वाइल्ड एनिमल्स पार्क का बुधवार को निरीक्षण के दौरान एक साल के टाइगर (बाघ) को 1 साल के लिए गोद लिया व उसे 'अग्निवीर' नाम दिया। गंगटोक से आने के क्रम में उन्होंने सफारी का निरीक्षण किया। इस दौरान एडॉप्शन प्रोग्राम (गोद अभियान) के तहत लोगों में जागरूकता के लिए केंद्रीय राज्यमंत्री चौबे ने टाइगर को गोद लिया। (Adopted tiger for 1 year under Adoption Program)

 

 

उन्होंने कहा कि मैंने केदारनाथ धाम में प्रकृति का रौद्र रूप देखा है। प्रकृति के संरक्षण के लिए सभी को जागरूक रहना चाहिए। ताकि इस तरह की घटनाएं न हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व व मार्गदर्शन में केंद्र सरकार ने जीव जंतुओं के संरक्षण के लिए व्यापक कदम उठाएं हैं। आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर लोगों में जागरूकता के साथ केदारनाथ त्रासदी के हुतात्माओं की याद में टाइगर गोद लिया है। (Union Minister of State Ashwini Choubey adopts 'Tiger' in Bengal Safari Siliguri, named 'Agniveer')

 

 

उन्होंने कहा कि पर्यावरण संतुलन में जीव जंतुओं की प्रमुख भूमिका है। उनका संरक्षण जरूरी है। इसके लिए लोगों को नियमित रूप से जागरूक करते रहने की भी जरूरत है। इस मौके पर मौजूदा अधिकारियों को "जीव जंतु गोद अभियान" के बारे में जागरूकता अभियान नियमित रूप से चलाने के लिए निर्देशित किया। केंद्रीय राज्यमंत्री चौबे बंगाल सफारी के निरीक्षण के दौरान जीव जंतुओं के रख रखाव से भी अवगत हुए। (Adopted tiger to motivate people to adopt more animals)

 

एडॉप्शन प्रोग्राम के तहत 70 लोगों ने यहां जानवर गोद लिए है। लोगों को अधिक संख्या में जानवरों को गोद लेने को प्रेरित करने के लिए केंद्रीय राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने टाइगर को गोद लिया। उन्होंने गोद लिए टाइगर के रखरखाव पर होने वाले खर्च 2 लाख का भुगतान ऑनलाइन के माध्यम से किया। पीसीसीएफ पश्चिम बंगाल सौमित्रा दास गुप्ता ने कहा कि केंद्रीय राज्यमंत्री चौबे द्वारा टाइगर को गोद लेने से अन्य प्रेरित होंगे। (Adopted tiger for 1 year under Adoption Program)

 

उन्होंने केंद्रीय राज्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। बंगाल सफारी निरीक्षण के दौरान आईजी आईआरओ कोलकाता सोमादास, डीएफओ वाइल्ड लाइफ दार्जलिंग हरीश, बंगाल सफारी नॉर्थ बंगाल वाइल्ड एनिमल्स पार्क की सहायक निदेशक अनुराधा राय तथा अन्य अधिकारी मौजूद थे। (Union Minister of State Ashwini Choubey adopts 'Tiger' in Bengal Safari Siliguri, named 'Agniveer')


 

IMG-20220625-WA0081



प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने नयाभारत के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें
Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.

खबरें और भी
29/Jun/2022

बिग CG न्यूज: छत्तीसगढ़ महतारी की फोटो लगेगी अब हर सरकारी दफ्तरों में, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश, सभी सरकारी भवनों/कार्यालयों तथा कार्यक्रमों में छत्तीसगढ़ी महतारी की फोटो लगाने के निर्देश, देखें आदेश....

29/Jun/2022

Chhattisgarh: CM भूपेश का छत्तीसगढ़ी में सवाल और छात्रा का फर्राटेदार अंग्रेजी में जवाब... मुख्यमंत्री बोले, जिला बहुत सुंदर, इहां के नोनी-बाबू मन ओकर ले जादा सुंदर... 'नोनी अनीषा' के अंग्रेजी सवाल का दिया ठेठ छत्तीसगढ़ी में जवाब.....

29/Jun/2022

CG जॉब: हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में होगी भर्ती, आवेदन की अंतिम तिथि 15 जुलाई, इन पदों पर निकली भर्तियां, ऐसे करें अप्लाई, देखें डिटेल....

29/Jun/2022

आज का राशिफल: धन के मामले में आज इन राशियों को मिलेगा भाग्य का साथ, इनका मन रहेगा परेशान, जानें किसकी चमकेगी किस्मत और कैसा रहेगा दिन.....

29/Jun/2022

CG- तहसीलदार पर रेप का आरोप: शादी का झांसा देकर दुष्कर्म के आरोप में तहसीलदार के खिलाफ FIR दर्ज, 5 साल से था प्रेम संबंध, फिर जो हुआ.....