Pollution Testing Center : मात्र 10 हजार लगाकर शुरू करें ये धाकड़ बिजनेस, पहले दिन से ही होगी इतनी कमाई...

Pollution Testing Center :

 

नया भारत डेस्क : अगर आप अपना खुद का बिजनस शुरू करना चाहते हैं तो ये लेख आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है. कोई बिजनस शुरू करना चाहते हैं तो एक अच्छा बिजनस आइडिया (Business Idea) है। ये बिजनस आइडिया है प्रदूषण जांच केंद्र (Pollution Testing Center) शुरू करने का। केंद्र सरकार की तरफ से मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicles Act) लागू किया गया है। जिसकी वजह से प्रदूषण जांच केंद्र (Pollution Testing Center) का बिजनेस काफी तेजी से बढ़ रहा है। नये मोटर व्हीकल एक्ट में पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने पर भारी जुर्माना लगता है। ऐसे में सभी वाहन मालिकों को पॉल्यूशन सर्टिफिकेट (PUC) सार्टिफिकेट की जरूरत पड़ती है।

6sxrgo

इस बिजनेस को शुरू करते ही पहले दिन से ही कमाई शुरू हो जाएगी। अगर कोई व्यक्ति ड्राइव कर रहा है और उसके पास पॉल्यूशन सर्टिफिकेट (PUC) न होने पर जुर्माना लग सकता है। यह जुर्माने की राशि 10,000 रुपये तक हो सकती है। ऐसे में हर छोटे से लेकर बड़े वाहन को पॉल्यूशन सर्टिफिकेट लेना जरूरी होता है। (Pollution Testing Center)

कैसे करें शुरू?

प्रदूषण जांच केंद्र खोलने के लिए सबसे पहले लोकल ट्रांसपोर्ट ऑफिस (RTO) से लाइसेंस लेना होगा। नजदीकी RTO ऑफिस में इसके लिए अप्लाई करना होगा। प्रदूषण जांच केंद्र पेट्रोल पंप, ऑटोमोबाइल वर्कशॉप के आसपास खोला जा सकता है। इसके लिए अप्लाई करने के साथ ही 10 रुपये का एफिडेविट देना होगा। लोकल अथॉरिटी से No Objection Certificate लेना होगा। Pollution Testing Center की हर राज्य में अलग-अलग फीस है। कुछ राज्यों में ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकते हैं।  (Pollution Testing Center)

कितनी होगी कमाई?

इस बिजनेस को आप हाईवे-एक्सप्रेस वे के करीब शुरू कर सकते हैं। शुरुआत में आप सिर्फ 10,000 रुपये का निवेश कर सकते हैं। हर महीने आपकी 50,000 रुपये तक कमाई हो सकती है। हाइवे और एक्सप्रेसवे के किनारे आसानी से रोज के 1500-2000 रुपये कमा सकते हैं।  (Pollution Testing Center)

ये लोग खोल सकते हैं Pollution Testing Center

Pollution Testing Center खोलने के लिए मोटर मैकेनिक्स, ऑटो मैकेनिक्स, स्कूटर मैकेनिक्स, ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग, डीजल मैकेनिक्स या फिर इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (ITI) से प्रमाणित सर्टिफिकेट होना चाहिए। आपको स्मोक एनालाइजर खरीदना होगा।  (Pollution Testing Center)

केंद्र खोलने के नियम

प्रदूषण जांच केंद्र पहचान के रूप में पीले रंग के केबिन में ही खोलना होगा। जिससे उसे अलग से पहचाना जा सके। केबिन का साइज- लंबाई 2.5 मीटर, चौड़ाई 2 मीटर, ऊंचाई 2 मीटर होनी चाहिए। प्रदूषण जांच केंद्र पर लाइसेंस नंबर लिखना जरूरी है।  (Pollution Testing Center)


F8964314-967-D-41-AC-B1-FE-676-D65641729


प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने नयाभारत के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें
Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.

खबरें और भी
04/Feb/2023

CG- प्रेमी जोड़े ने की खुदकुशी: प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत... मामी-भांजे की मिली लाश... बंद कमरे में फंदे पर लटके मिले दोनों.....

04/Feb/2023

Pakistan Crisis TLP: गरीबी हटाने का जिहादी प्लान, एक हाथ में कुरान, दूसरे हाथ में एटम बम, सारी दुनिया झुक जाएगी, आपको क्या लगता है इन जिहादियों का दिमाग खराब तो नहीं हो गया है।

04/Feb/2023

CM भूपेश ने भतीजों को दिया दिलचस्प जवाब: जानिए घर में कका की चलती है या काकी की?......

04/Feb/2023

Gadar 2 First Look: Bollywood फिल्म गदर 2 फ‍िर गदर मचाने आ रहे हैं सनी देओल, फिल्म का फर्स्ट लुक हुआ जारी.....

04/Feb/2023

How To Apply For Job In Netflix: नेटफ्लिक्स ने निकाली वेकैंसी, सैलरी होगी 3 करोड़ रुपए सलाना! बस करना होगा ये काम....