मुगल बादशाह औरंगजेब अपनी मौत के 300 साल बाद सोशल मीडिया पर क्यों ट्रेंड कर रहा है? इसे पढ़े जरूर..

NBL, 28/05/2022, Lokeshwer Prasad Verma,. Why is Mughal emperor Aurangzeb trending on social media 300 years after his death?

मुगल सम्राट औरंगजेब: यह भी कहा जाता है कि उनके शासनकाल के दौरान, लगभग पूरे भारतीय उपमहाद्वीप पर शासन करते हुए मुगल साम्राज्य अपने चरम पर पहुंच गया था, पढ़े विस्तार से... 

नई दिल्ली: संभवतः "अंतिम प्रभावी मुगल सम्राट", जिसने 1658 से 1707 तक लगभग 50 वर्षों तक भारत पर शासन किया, मुही अल-दीन मुहम्मद, जिसे औरंगजेब के नाम से जाना जाता है, सबसे अधिक बदनाम ऐतिहासिक व्यक्तित्वों में से एक है।

​​​​​Nayabharat

छठा मुगल बादशाह औरंगजेब उन कारणों से काफी देर से चर्चा में है, जिनके साथ बहुत से लोग जुड़ना नहीं चाहेंगे। अपनी मृत्यु के 300 से अधिक वर्षों के बाद भी, वह हाल के महीनों में भारत में बहस का एक गर्म विषय है। औरंगजेब अपने पिता को कैद करके और अपने बड़े भाई को मारकर बादशाह बना।

औरंगजेब के बारे में... 

औरंगजेब एक कट्टर क्रूर मुसलमान था। उन्हें एक निर्दयी अत्याचारी के रूप में वर्णित किया गया है, जो "हिंदू विरोधी" थे, जिन्होंने सख्त शरिया कानून लागू किए और भेदभावपूर्ण जजिया कर वापस लाया जो हिंदुओं को सुरक्षा के बदले में देना पड़ता था। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि औरंगजेब के बारे में कहा जाता है कि उसने पूरे भारत में हजारों हिंदू मंदिरों को नष्ट कर दिया था।

कई अपमानजनक संदर्भों के साथ औरंगजेब सोशल मीडिया पर "प्रवृत्त" है। वास्तव में, उनका नाम दक्षिणपंथी के अनुसार, मंदिरों के कथित विनाश और उनके द्वारा मस्जिदों के निर्माण के सौजन्य से विभिन्न न्यायालयों तक पहुंच चुका है।

क्यों ट्रेंड कर रहा है औरंगजेब... 

इसे वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद के विवाद के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है, जो विश्वनाथ मंदिर के खंडहरों पर बनाया गया है, औरंगजेब के आदेश पर 1669 में एक भव्य 16 वीं शताब्दी के हिंदू मंदिर को नष्ट कर दिया गया था और उस भव्य मंदिर के ऊपर मस्जिद बनवाया ऐसा हिन्दू पक्ष का कहना है और कुछ हिन्दू धर्म प्रतीक भी उस मस्जिद में आज मौजुद है इस कारण से आज ज्ञानवापि मस्जिद विवादित है और कोर्ट मे इस मामले का केस चल रहा है, और इन सभी विवाद का मुख्य कर्ता क्रूर मुगल शासक औरंगजेब है, जो अपने शासन काल मे ये सब कृत्य किया जिसके गलत परिणाम को हिन्दू पक्ष और मुस्लिम पक्ष दोनों को वर्तमान में वाद विवाद के रूप में झेलना पढ़ रहा है। जो हिन्दू मुस्लिम एकता मे दरार पैदा कर रहा है,  और इस क्रूर औरंगजेब का अनुयायी या इसके जैसे सोच रखने वाले लोग आज सोशल मिडिया के माध्यम से विवादीत ज्ञानव्यापी मस्जिद का पक्ष ले रहे हैं,  और सत्य को जानते हुए भी अनजान बनकर औरंगजेब का साथ दे रहे हैं और आज उस क्रूर औरंगजेब को हीरो बना रहे हैं, जो वर्तमान भारत मे उचित नहीं है। 

औरंगजेब को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण में भी एक उल्लेख मिला जब उन्होंने वाराणसी में एक कार्यक्रम में और सिख गुरु तेग बहादुर की 400 वीं जयंती के अवसर पर "औरंगजेब के अत्याचारों, उनके आतंक" के बारे में बात की, जिन्हें धर्मांतरण से इनकार करने के लिए सिर काट दिया गया था। इस्लाम। पीएम मोदी ने कहा, "औरंगजेब ने भले ही कई सिर काट दिए, लेकिन वह हमारे विश्वास को नहीं हिला सके।"

पीएम मोदी ने मृत और क्रूर  मुगल सम्राट के उल्लेख ने कनाडा-अमेरिकी पत्रकार ऑड्रे ट्रुशके का ध्यान आकर्षित किया, जिन्होंने ट्विटर पर पूछा कि भारतीय प्रधान मंत्री "300+ साल पहले मरने वाले मुगल सम्राट पर हमला करते हुए एक लंबा भाषण क्यों दे रहे थे"?

इस विदेशी पत्रकार के ट्वीट का उत्तर इतिहासकार नदीम रीजवी दिया और जमकर तारिफ किया कुछ खट्टा कुछ मीठा उस क्रूर मुगल शासक औरंगजेब का... 

और रिजवी का कहना है कि औरंगजेब ने कई हिंदू मंदिरों को तोड़ा और हिंदुओं पर भेदभावपूर्ण कर लगाया, लेकिन वह एक जटिल व्यक्ति था, और पूरी तरह से दुष्ट नहीं था। "उन्होंने हिंदू मंदिरों को बनाए रखने के लिए सबसे अधिक अनुदान दिया, वह खुद दो-तिहाई खून से हिंदू थे क्योंकि उनके परदादा अकबर ने एक राजपूत (एक हिंदू जाति) से शादी की थी। उनके शासन के दौरान उच्च क्षेत्रों में अधिक राजपूत थे । किसी भी अन्य मुगल की तुलना में," रिजवी कहते हैं।

रीजवी का कहना है कि औरंगजेब अपने निजी जीवन में कट्टरपंथी नहीं थे और उन्होंने "शराब का आनंद लिया, वीणा बजाया - हिंदू देवी-देवताओं का पसंदीदा वाद्य - और किसी भी अन्य मुगल की तुलना में उनके अधीन अधिक संगीत पुस्तकें लिखी गईं। औरंगजेब ने अपने लिए धर्म को कवर करने के लिए धर्म का आह्वान किया। राजनीतिक विफलताओं और अपने अधिकार को मजबूत करना।

यह भी कहा जाता है कि उनके शासनकाल के दौरान, लगभग पूरे भारतीय उपमहाद्वीप पर शासन करते हुए, मुगल साम्राज्य अपने चरम पर पहुंच गया था। उन्होंने 158 मिलियन से अधिक लोगों की आबादी पर शासन किया और उनके शासनकाल में, भारत दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और सबसे बड़ी विनिर्माण शक्ति बन गया, जिसकी कीमत वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद का लगभग एक चौथाई है।

ऐसे भी इतिहासकार है इस देश में जो मानवीय मानवता को ना मानने वाला क्रूर औरंगजेब का तारिफ कर रहे हैं, तो भारत में आज भाईचारे का निर्माण कैसे होगा यहाँ तो अलगाव पन होगा, देश जोड़ने की बात न करते हुए तोड़ने की बात कर रहा है ये इतिहासकार नदीम रिजवी.

जो औरंगजेब अपने घर परिवार का सगे नहीं हुआ तो क्या आप भारतीय मुस्लिम समाज का सगा बन सकते है जरा अंतरमन से विचार करें और उचित व अणुचित उत्तर मिले तब आप इस क्रूर औरंगजेब का साथ दे अन्यथा इस क्रूर औरंगजेब का क्रूरता का उलझन में अपने ही देश के एक भाई दूसरे भाई से उलझते रहो और कोर्ट कचहरि जाते रहो, और हार जीत से एक दूसरे का दुश्मन बने रहो और राजनीति करते रहो, जरा विचार करें इस क्रूर औरंगजेब का क्रूरता का साथ आज क्यो दे? जो गलत किया उसका सच आज वर्तमान मे सामने आ रहा है। हम भारतीय है तो उस विदेशी मुगल शासक का साथ क्यो दे जो भारत देश सौहार्द बिगड़े। यहाँ हिन्दू मुस्लिम की बात नहीं है, यहाँ सत्य और असत्य की बात है। 


 

IMG-20220625-WA0081



प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने नयाभारत के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें
Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.

खबरें और भी
29/Jun/2022

बिग CG न्यूज: छत्तीसगढ़ महतारी की फोटो लगेगी अब हर सरकारी दफ्तरों में, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश, सभी सरकारी भवनों/कार्यालयों तथा कार्यक्रमों में छत्तीसगढ़ी महतारी की फोटो लगाने के निर्देश, देखें आदेश....

29/Jun/2022

Chhattisgarh: CM भूपेश का छत्तीसगढ़ी में सवाल और छात्रा का फर्राटेदार अंग्रेजी में जवाब... मुख्यमंत्री बोले, जिला बहुत सुंदर, इहां के नोनी-बाबू मन ओकर ले जादा सुंदर... 'नोनी अनीषा' के अंग्रेजी सवाल का दिया ठेठ छत्तीसगढ़ी में जवाब.....

29/Jun/2022

CG जॉब: हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में होगी भर्ती, आवेदन की अंतिम तिथि 15 जुलाई, इन पदों पर निकली भर्तियां, ऐसे करें अप्लाई, देखें डिटेल....

29/Jun/2022

आज का राशिफल: धन के मामले में आज इन राशियों को मिलेगा भाग्य का साथ, इनका मन रहेगा परेशान, जानें किसकी चमकेगी किस्मत और कैसा रहेगा दिन.....

29/Jun/2022

CG- तहसीलदार पर रेप का आरोप: शादी का झांसा देकर दुष्कर्म के आरोप में तहसीलदार के खिलाफ FIR दर्ज, 5 साल से था प्रेम संबंध, फिर जो हुआ.....