अजीबोगरीब मामला:दादी की कोख में पल रही पोती! 56 साल की महिला अपने बेटे के बच्चे की मां बनने वाली है,पढ़िए अजीबोगरीब मामला….

Strange case: Granddaughter growing in grandmother's womb! 56-year-old woman is about to become the mother of her son's child

नया भारत डेस्क : आज कल कई अजीबोगरीब किस्से सुनते  होंगे. कई बार माँ और बेटी एक साथ प्रेग्नेंट हो जाती हैं और एक साथ बच्चे को जन्म देती हैं. इस प्रकार से दो पीढ़ियां को एक साथ जन्म देते कई बार सास और बहू भी साथ बच्चे को जन्म देती है. लेकिन आज जो कहानी हम आपको बताने जा रहें हैं वह बेहद अनोखी है. जिसके बारे में आपने पहले शायद ही कभी सुना हो. जी हाँ! एक 56 वर्षीय महिला अपने ही बेटे के बच्चे को जन्म देने जा रही है. यानि दादी अपनी कोख में अपनी पोती को पाल रही है. वह भी परिवार के रजामंदी से. आइये जानते हैं इस अजीबोगरीब कहानी के बारे में...

 

इन दिनों नैंसी हॉक नाम की महिला सोशल मीडिया पर छाई हुई है. नैंसी ने जिस बच्चे को जन्म को देकर पाला-पोसा और बड़ा किया, अब वह उसी के बच्चे की मां बनने जा रही है. 56 वर्षीय महिला अपने अपने ही बेटे के बच्चे के अपने गर्भ में पाल रही है. नवंबर में वो अपनी पोती को जन्म देगी और दादी के बजाय उसकी मां कहलाएगी.(Strange case: Granddaughter growing in grandmother's womb! 56-year-old woman)

 

दादी को कोख में पल रही है पोती 

डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका के उताह की रहने वाली नैंसी के गर्भ में 32 साल के बेटे जेफ और 30 साल की बहू कैम्ब्रिया का बच्चा पल रहा है. वह अपने बेटे और बहू के लिए एक सरोगेट मदर बननी है. नवंबर में उनके घर में एक सदस्य की एंट्री होने वाली है. नैंसी जल्द ही अपनी पोती को जन्म देगी.(Strange case: Granddaughter growing in grandmother's womb! 56-year-old woman)

 

दादी कहलाएंगी या मां 

डॉक्टरों के अनुसार 56 साल की नैंसी बिल्कुल ठीक है. उसकी यह पहली पोती नहीं है. इससे पहले भी उनके घर में 4 बच्चे हैं. इन सभी को उनकी बहू ने ही जन्म दिया है. हालांकि दोनों बार हुए जुड़वां बच्चों के दौरान उसे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. परिवार बढ़ाने की जिम्मेदारी अब खुद नैंसी ने उठाने का फैसला किया है. बता दें कि वह पहले 5 स्वस्थ बच्चों को जन्म दे चुकी है.

 

क्या होती है सरोगेसी (What is Surrogacy in hindi) ?

सरोगेसी का विकल्प उन महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है जो प्रजनन संबंधी मुद्दों, गर्भपात या जोखिम भरे गर्भावस्था के कारण गर्भ धारण नहीं कर सकतीं. सरोगेसी को आम भाषा में किराए की कोख भी कहा जाता है, यानी बच्चा पैदा करने के लिए जब कोई कपल किसी दूसरी महिला की कोख किराए पर लेता है, तो इस प्रक्रिया को सरोगेसी कहा जाता है, यानी सरोगेसी में कोई महिला अपने या फिर डोनर के एग्स के जरिए किसी दूसरे कपल के लिए प्रेग्नेंट होती है. अपने पेट में दूसरे का बच्चा पालने वाली महिला को सरोगेट मदर कहा जाता है.(Strange case: Granddaughter growing in grandmother's womb! 56-year-old woman)

​​​​​​

 

6sxrgo


20221103-112153

 

  

 

 


प्रदेशभर की हर बड़ी खबरों से अपडेट रहने नयाभारत के ग्रुप से जुड़िएं...
ग्रुप से जुड़ने नीचे क्लिक करें
Join us on Telegram for more.
Fast news at fingertips. Everytime, all the time.

खबरें और भी
27/Nov/2022

CG School News: स्कूली छात्रों के बाइक-कार लेकर स्कूल आने पर लगी रोक…सभी शासकीय, अशासकीय स्कूलों को जारी हुआ निर्देश….

27/Nov/2022

CG:दुर्ग संभाग से बड़ी खबर बालोद जिला जेल से फरार दो विचाराधीन कैदी मामले की जांच शुरू...प्रहरी को किया निलंबित...पढिए पूरी खबर…

27/Nov/2022

CG:कलेक्टर द्वारा गोद लिए आदर्श गौठान ग्राम सांकरा में गौ तस्करी की आशंका..मामला बेरला जनपद पंचायत क्षेत्र सांकरा ग्राम पंचायत का

27/Nov/2022

भारत जोड़ों यात्रा: बाइक में सवार राहुल गांधी के साथ दौड़ते दिखाई दिए भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव…

27/Nov/2022

वही  सुबह से ही महापौर सफीरा साहू ,आयुक्त दिनेश कुमार नाग ने मोर्चा संभालते शहर में 48 वार्डो जनमानस को पेयजल की समस्या उत्पन्न ना हो उस उद्देश्य से सुबह महापौर व आयुक्त ने निगम के नियमित पीएचई कर्मचारियों से वार्डो में घूम कर पंप चालू करवा कर पानी की सप्लाई करवाई