राजस्थान

कितना भी संघर्षमय जीवन हो, आत्महत्या कभी भी कोई भी मत करना, मुसीबतों का दिलेरी से करना सामना

प्रेमियों अगर मेहनत कर लो तो सब दिक्कतें खत्म हो सकती, सब भविष्यवाणियां कट सकती हैं

बाबा जयगुरुदेव का मंदिर, चिह्न बावल रेवाड़ी में देश-विदेश के सब प्रेमी मिल कर बना दो - सन्त उमाकान्त

सीकर राजस्थान में बाबा उमाकान्त जी द्वारा आने वाले कुदरती प्रकोप से बचने का रास्ता नामदान की अमृत वर्षा

मांस खाने वालों को यह नहीं पता है कि कितना बड़ा अपराध, पाप हमसे हो रहा है

आपका कोई काम न बनता हो तो नामध्वनि अंदर में बोल कर उस काम में लगने पर कुछ न कुछ कामयाबी जरूर मिलेगी

धरती पर पूर्ण सतगुरु मौजूद हैं, रास्ता लेकर जीवात्मा को अमर अविनाशी के पास अमरलोक में पहुचा दो

हाथ जोड़कर विनय हमारी, तजो नशा बनो शाकाहारी, सतयुग काबिल बनो नर नारी

सन्त उमाकान्त जी ने बताये शरीर को स्वस्थ रखने के कई कुदरती नुस्खे

मांसाहार यदि इसी तरह से बढ़ता रहा तो कितनी भी फैक्ट्रियां खोल लो, दवाइयां नहीं मिल पाएगी